“जुडो और जोडो अभियान मे सामिल होकर एक नया समाज घडायेंगे”

जुडो अन् जोडो अभियान मे सामिल होकर समाज कि एकता बानाय रखने मे मदत करे! ताकी अपने समाज मे परिवर्तन होकर गोर गरीब मजदुर व किसानों को सच्या न्याय मिले और गरीब बंधुओं के छात्रों को अछी पढाई मिले इस लिऐ गोर बंजारा संघर्ष समिती भारत के नियम व अटी के बारेमे जानना हैं तो www.goarbanjara.com पर भी देख सकते हैं या मुझे संपर्क कर सकते हैं.
गोर बंजारा संघर्ष समिती स्थापन करवे का उदेश्य सिर्फ एक ही हैं. बंजारा समाज को एकता की रूप मे देखना और समाज के लिय सच्या न्याय/हक्क दिलाना,देश को अंग्रेजोसे आझादी मिलकर करीब 7 दशक होने वाले हैं. तो भी बंजारा समाज को आज तक किसीने आझाद नही किया, क्यो कि हमारे समाज मे एकता नाम कि चिज ही नही हैं.अलग अलग प्रांतो मे अलग अलग नाम से जाना जाता हैं.और दुसरी बढी बात तो यह हैं की बंजारा समाज की बोली भाषा संस्कृती एक होकर भी हमारे समाज को आरक्षण के लिऐ अलग अलग नाम से विभाजन किया गया हैं.आध्र प्रदेश मे sc कर्नाटक मे st महाराष्ट्र मे VJNT ऐसे हर प्रांतो मे बाटकर रखा गया हैं। तो यह हम क्यु नही बोलना चाहते सरकार को क्या हम इतने सहनशिलता वाले हैं। क्या..? क्यो हम हमारा हक्क मांगने से कतराते हैं।
इसकी वजह से हमारे समाज के लिडर,नेता, मंत्रीगण हमे आगे जाने के लिऐ रोखते हैं। क्यो। गरीबों तक उनका हक्क नही पहोचता..? क्यो गरीब किसान आत्महत्या करते हैं।..? क्यो गरीबों  के बच्चों को अच्छे स्कूलों। मे दाखिला नही मिलता..? छोटे गांव मे ही बेकारी क्यो हैं ? यह किसीने आज तक नही पुच्छा..क्यो की हमे जरूर ही क्या हैं। समाज प्रेमी होनाही नही हैं। सिर्फ काम करना हैं अपने अपने परिवार के लिऐ ही जिंदगी का सफर तय।करना है। थोडा पिछे भी सोचना होगा…कि हम भी कभी छोटे गांव मे थे जब हमे पता चलेगा की कोई गरीब हैं हमारे समाज।मे हमे हमारे समाज के उपर नज़र अदाज नही करनी चाहिये..दोस्तो..
जुडो समाज से और जोडो समाज को…
गोर बंजारा संघर्ष समिती के संयोजक श्री रविराजजी राठोड के साथ जुडकर समाज के अच्छे काम मे सहायता कर एक नया।समाज परिवर्तीत करे….जय सेवालाल..जय गोर

सौजन्य: गोर कैलास डी.राठोड
प्रचारक/स्वयंसेवक
गोर बंजारा संघर्ष समिती भारत,
प्रमुख एडिटर बंजारा आँन लाईन न्युज पोर्टल,
Website: wwww.goarbanjara.com