जहाँ ईश्वर वहाँ सत्य

जय सेवालाल भाईयों …जहॉं सत्य हैं वहॉ ईश्वर हैं.
आगर हमे ईश्वर को देखना हैं तो हमे सत्य की राहपर चलना होगा.
आगर हम सब भाई मिलकर समाज के हित मे तथा समाज को जोडने का सही दिलसे,निस्वार्थ बनकर काम  करेंगे तो हमे ईश्वर जरूर मिलेगा.सबसे पहिले हमे सत्य की ओर चलना होगा और सत्यकर्म करना होगा.तांकी हमारी आनेवाली नसल(पिढ़ी) को हमारे समाज के बारेमे बंजारा संस्कृती के बारे मे कुच्छ पता ना हो.अगर ऐसा होता हैं तो हमारे बालबच्चे बंजारा समाज के इतिहास को तो क्या हम क्या हैं वोह भी नही जानेंगें हमे समाज का इतिहास हमारे बालबच्चो के सामने बार बार दोहराना पढेगा.इसलिऐ समाज को जोडना हमारा कर्तव्य हैं. गोर बंजारा संघर्ष समिती भारत इस समिती के संयोजक श्री रविराजजी राठोड आपने साथ कही निस्वार्थी समाज सेवक तथा स्वयंसेवकों को साथ लेकर समाज हित मे समाज को जोडने का काम कररहे हैं.गोर बंजारा संघर्ष समिती की हर रविवार को हमारे बंजारा समाज के तांडाओ मे लियी जाती हैं.मुझे उमिद हैं अपना समाज और अपने समाज के मेरे भाई सब साथ मिलकर इस समिती का हिसा बनकर समाज के गोर गकीबों को सही तरीके से न्याय दिलांयेगें…
सत्यकर्म करनेका तरीका.
१) अंधे या भुले भटके को सही रास्ता दिखाना,
२) किसी बेरोजगार को रोजगारी दिलाना,
३) नंगे बदनवाले को कपडे पहणाना,
४) समाज के गोर गरीब भाईयोंई को सचा न्याय दिलाना,
५) बिखरा हुआ समाज निस्वार्थ से जोडाना,
६) हमारे जिवन मे जितनी भी कठीनायॉ आती हैं उसका सचे दिलसे सामना करना, येही जिवन हैं “मै” या “तु” तु की जगह “हम” लगाकर समाज हित मे काम करना हैं…जुडो समाज से और समाज को जोडो….
जय सेवालाल
आपका भाई..
गोर कैलास डी. राठोड
समाज सेवक गोर बंजारा सघर्ष समिती भारत…
मो.९८१९९७३४७७

Leave a Reply