गोर बंजारा संघर्ष समिती (भारत) के नियम

गोर बंजारा संघर्ष समिती (भारत) के सदस्य स्वयंसेवक सेविका पदाधिकारी बनने के बाद इन नियमो का पालन करना होगा,
1) गो.ब.सं.स.भारत, का स्वंयसेवक, पदाधिकारी, सदस्य एवं कार्यकर्ता बनकर समाज हितमें निस्वार्थ भावना से नियमों का पालन करते हुए आपना कार्य करन होगा।
2) समिती से जुडा हुआ हर व्यक्ति खुद के स्वार्थ के लिए समाज में किसी भी प्रकार का भेदभाव (दिशाभूल) नही करेगा।
3) समिति के जो उद्देश्य है उन्ही उद्देश्यों के अनुसार समाज हितमें कार्य करने होंगे।
4) गो.ब.सं.स.भारत से संबंधित संलग्न संस्था, मंडल, प्रतिष्ठान, फाऊंडेशन अदि जो भी समिति से जुड़कर समिति के नियमो का पालन करते हुवे कार्य करना होगा।
5) हम सबसे पहले गो.ब.सं.स.भारत इस समिति के निस्वार्थी स्वयंसेवक हैं यह ध्यान में रखकर हमें समाज हितमें काम करना है। उसके बाद हमें दिए गये पद की जिम्मेदारी को अच्छी तरह से निभाना हैं।
6) गो.ब.सं.स.भारत के नियमों के अनुसार हमें समिति के संस्थापक संयोजक फाऊंडर अथवा जेष्ठ पदाधिकारी का आदर सन्मान कर शिस्तबद्ध नियमों का पालन करना है।
7) गो.ब.सं.स.भारत यह समिती केवल समाज को जोड़ने व् समाजहित में काम करने के लिए बनाई गई है।
यह समिति राजनीत मुक्त है यह बात ध्यान में रखना है।
8) समिती के नियमों का पालन करते हुवे किसी भी कार्य छोटा या बढा हो हमें समिति के संयोजक सहित सभी प्रमुख स्वंयसेवक पदाधिकारी एवं सदस्यों को सूचित करके ही निर्णय लेना है। और स्थानीय शाखा के पदाधिकारि स्वंयसेवकों की बैठक के जरिए निर्णय लिया जाएगा। जिसकी सुचना जेष्ठ समिति को देना अनिवार्य है।
9) गो.ब.सं.स.भारत का सदस्य बनने के बाद कोई गलत कार्य अथवा किसी को कोई नुकसान न पहुंचे इस बात का ध्यान रखना होगा। और अगर नियमो का उलन्घन कर कोई गलत कार्य करने पर वह खुद गलती के लिए जिम्मेदार होगा।
10) समिती के सभी स्वयंसेवक पदाधिकारीयों एवं सदस्यों को समाज के सभी भाई बहनों को समान मानकर सभी को समाजहित क्या है यह समज व जानकारी देना है। और हर एक गोर भाई बहनों को दुःख सुख में हमे साथ देना मदद करना हमारा कर्तव्य है यह समज देना है ।
11) इस समिति के सभी सदस्य गोर बोली में ही बातचीत करेंगे और जिस राज्य में जो बोली होगी उस हिसाब से गोर बोली हिंदी या उस राज्य कि बोली में समाज के भाईयों को समाज के प्रति समज देकर आपना कार्य को आगे बढाना होगा।

image

संस्थापक व संयोजक
श्री रविराज टी.राठोड

प्रचारक…गोर गजानन डी राठोड
स्वंयसेवक
गोर बंजारा संघर्ष समिती (भारत)

Leave a Reply